• CALL NOW TO LODGE YOUR COMPLAINTS ON TOLL FREE NO.1800-180-5432,1800-180-3316
  • घंटाघर चौंक

    सहरनपुर को अंबाला रोड,रेलवे स्टेश्न,देहरादून रोड से जोड़ता घंटाघर चोंक

    नगर निगम

    विभागय कक्ष

    नगर निगम

    प्रशासनिक कक्ष

    गाँधी पार्क

    गाँधी पार्क

    सहारनपुर नगर निगम का इतिहास

    सहारनपुर नगर प्राचीन काल से रूहेला नवाबों का शहर था। अकबर बादशाह के मुगल साम्राज्य से राजा साहनवीर के नाम से यहां की रियासत सबसे बड़ी राजस्व रियासत थी, गंगा जमुनी तहजीब वाले इस नगर का नामकरण राजा साहनवीर व मुस्लिम पीर शाह हारून चिश्ती साहब के नाम पर हुआ है। नगर में दो नदिया पांवधोई व ढमोला प्रवाहित है। 1867 में स्थापित इस निकाय की स्थापना हुई थी। 1 अक्टूबर 2009 को उत्तर प्रदेश शासन द्वारा सहारनपुर नगर पालिका परिषद जिसका क्षेत्रफल 25.36 वर्ग कि. मी था, में आसपास के 32 ग्रामों जिनका क्षेत्रफल 48.36 वर्ग कि.मी है को सम्मलित कर वर्तमान नगर निगम क्षेत्र की रचना की गयी है। वर्तमान में नगर निगम सहारनपुर का कुल क्षेत्रफल 73.72 वर्ग कि. मी है। वर्ष 2001 की जनगणना के अनुसार नगर पालिका क्षेत्र की जनसंख्या 4,55,754 थी। तत्पश्चात नगर निगम क्षेत्र की जनसंख्या 5,42,025 थी। वर्तमान में जनगणना 2011 के अनुसार नगर निगम क्षेत्र की क्षेत्र जनसंख्या 7,05,478 है। मध्य हिमालय, शिवालिक पर्वत माला के ढलानों पर स्थित सहारनपुर नगर से दो राष्ट्र राज्य मार्ग एन.एच 344 पंचकुला देहरादून एवं एस.एच 57 दिल्ली यमनोत्री मार्ग गुजरते है। यह नगर हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड की सीमाओं को जोड़ने का कार्य करता है एवं अपने नक्काशी उद्योग एवं बागवानी हेतु प्रसिद्ध है।